गोरखपुर        महराजगंज        देवरिया        कुशीनगर        बस्ती        सिद्धार्थनगर        संतकबीरनगर       
गुड मॉर्निंग न्यूज़

धनतेरस पर सजा सराफा और बर्तन बाजार

उन्नाव। कोरोना काल के कारण दो साल बाजार की रौनक फीकी रही। सोने-चांदी के बढ़ते भाव ने भी लोगों को हाथ पीछे खींचने पर विवश किए रखा। धीरे-धीरे स्थिति सामान्य होने के बाद एक बार फिर सोने चांदी के प्रति लोगों का रुझान बढ़ा। इस दीपावली चांदी के सिक्के, सोने और चांदी के गणेश लक्ष्मी की मूर्तियां और इसके साथ ही हल्की फैंसी ज्वैलरी की डिमांड बढ़ी है। वाहन और इलेक्ट्रानिक उपकरणों के शोरूम भी आफरों के साथ ग्राहकों को लुभाने के लिए तैयार हैं। सर्राफा मार्केट में अभी से ग्राहक ज्वैलरी पसंद करने पहुंच रहे हैं। यह बात अलग है कि वह आर्डर देकर एडवांस बुकिग करा लौट रहे हैं। जेवरातों की डिलीवरी धनतेरस के शुभ मुहुर्त पर ग्राहक मंगलवार को लेंगे। यही हाल वाहन और इलेक्ट्रानिक बाजार का भी रहा। दुकानदारों ने पूरा दिन बिक्री के साथ ही शोरूम और दुकानों को बिक्री के लिए सजाने में गुजारा। एक ग्राम के सोने के सिक्के पर होगी लक्ष्मी गणेश की प्रतिमा सर्राफा बाजार में ग्राहकों की भीड़ से सर्राफा कारोबारियों को अच्छा व्यवसाय होने की उम्मीद बढ़ गई है। सर्राफा कारोबारियों में वेदप्रकाश अमर सैनी आदि ने बताया कि इस बार चांदी के सौ और पांच सौ के नेाट पर तो लक्ष्मी गणेश की प्रतिमा बनी ही है एक ग्राम सोने के सिक्के पर भी प्रतिमा बनी है। ग्राहक इन्हें पसंद भी कर रहे हैं। इलेक्ट्रानिक बाजार में भी रौनक फ्रिज, एलईडी, वाशिग मशीन आदि उपकरणों की दुकानों पर मंगलवार को भी ग्राहकों की भीड़ रही। खरीदार आवश्यक उपकरण पसंद कर उनकी बुकिग भी कराते रहे। पहले कराई बुकिग, धनतेरस पर उठाने भी आए, वाहन धनतेरस पर नए वाहन की खरीदारी को अच्छा शगुन माना जाता है। इसके लिए लोग पहले से तैयारी कर रहे हैं और अपने पसंदीदा वाहन की बुकिग करा रहें हैं। दोपहिया वाहनों की डिमांड तो बढ़ी है लेकिन चार पहिया वाहनों का बाजार अभी अपेक्षा के अनुसार सुस्त है। व्यवसायी बोले पिछले वर्ष 350 वाहन बेचे थे इस वर्ष तक 290 दोपहिया वाहनों की बुकिग हो चुकी है। उम्मीद है की धनतेरस पर भी सौ से अधिक वाहनों की बिक्री हुई। अर्पित सिघल, वाहन विक्रेता पिछले वर्ष मेरी कंपनी के 80 दोपहिया वाहन बिके थे इसबार 90 वाहनों की बुकिग हो चुकी है। उम्मीद है की धनतेरस पर इससे ज्यादा वाहन बिकेंगे। हरिओम सिंह, वाहन विक्रेता पिछले वर्ष धनतेरस पर 900 वाहन बिके थे, इस वर्ष अब तक 1200 वाहनों की बुकिग हो चुकी है। उम्मीद है की इस बार भी पांच सौ वाहन बिकेंगे। विशाल सिंह, वाहन विक्रेता पिछले वर्ष से डेढ़ गुना अधिक व्यवसाय होने की उम्मीद है। इस बार फैंसी हल्की ज्वैलरी की डिमांड अधिक है।

Related Articles

Back to top button
Close